RBI ने जारी किया अलर्ट, इन Apps और वेबसाईट का इस्तेमाल पड़ेगा आपको कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स महंगा, जानें यहाँ

हाल ही में आरबीआई ने एक नई लिस्ट जारी की है, लिस्ट में वैसे ऐप्स और वेबसाईट को शामिल किया गया है, जो फॉरेक्स लेन-देन और सौदे के लिए रजिस्टर्ड नहीं है। इस लिस्ट में कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स आरबीआई ने 34 प्लेटफॉर्म को शामिल किया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) अक्सर ग्राहकों की सुरक्षा देखते हुए नए-नए अपडेट देता है। इस बार भी सेंट्रल बैंक ने ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के लिए अलर्ट जारी किया है। यदि आप भी ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के जुड़े है तो यह खबर जरूर पढ़े। हाल ही में आरबीआई ने एक नई लिस्ट जारी की है, लिस्ट में वैसे ऐप्स और वेबसाईट को शामिल किया गया है, जो फॉरेक्स लेन-देन और सौदे के लिए रजिस्टर्ड नहीं है। इस लिस्ट में आरबीआई ने 34 प्लेटफॉर्म को शामिल किया है।

यह भी पढ़े…टाटा ग्रुप बनाएगा भारत में iPhone, चल रही है डील की बातचीत, जानें पूरा प्लान

कुछ ऐसे प्लेटफॉर्म में हैं जो ग्राहकों को अधिक रिटर्न का वादा करके आकर्षित करते हैं, जो काफी खतरनाक होता है। इतना ही यदि आपको इन कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स प्लेटफॉर्म का सही ज्ञान ना हो तो आप कानूनी मुसीबतों में फंस सकते है। आरबीआई के मुताबिक इन अनाधिकृत प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स पर भी मुकदमा चलाया जा सकता है। आरबीआई ने बयान जारी करते हुए लोगों को आगाह कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स किया की वो किसी भी अनधिकृत ईटीपी पर विदेशी मुद्रा का लेन-दें या धन राशि जमा ना करें।

यह कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स भी पढ़े… MP School: छात्रों-शिक्षकों के लिए अच्छी खबर, त्यौहारों के लिए छुट्टियां घोषित, विभाग कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स ने जारी किया आदेश

यदि कोई भी ग्राहक फेमा के तहत आरबीआई द्वारा रजिस्टर्ड ना किए गए ईटीपी का इस्तेमाल करते हैं तो भविष्य की कार्रवाई के लिए वो खुद जिम्मेदार होंगे। आरबीआई ने यह जानकारी भी दी की अधिकृत व्यक्तियों आउए ईटीपी की लिस्ट आरबीआई कानूनी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स के ऑफिशियल वेबसाईट पर उपलब्ध है। साथ ही आरबीआई ने यह भी कहा की फेमा के नियमों के मुताबिक निवानी व्यक्तियों को सिर्फ अधिकृत व्यक्तियों के साथ और अनुमत कारणों के लिए विदेशी मुद्रा के लेन-देन की इजाजत होती है। यहाँ दिए गए लिंक पर विज़िट करके आप अनाधिकृत प्लेटफॉर्म की लिस्ट देख सकते हैं-अलर्ट लिस्ट

रेटिंग: 4.18
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 647